इफको नैनो यूरिया और ड्रोन के साथ भारतीय कृषि में एक नई क्रांति

 
इफको नैनो यूरिया और ड्रोन के साथ भारतीय कृषि में एक नई क्रांति

किसानों वैज्ञानिकों और  छात्रों के साथ शुआट्समें संगोष्ठी।


स्वतंत्र प्रभात 
राहुल जायसवाल की रिपोर्ट
नैनी,प्रयागराज।

 कारडेट इफको फूलपुर के द्वारा शुआट्स नैनी प्रयागराज के जैव प्रौद्योगिकी सभागार में बुधवार को भारतीय कृषि में इफको नैनो उर्वरकों एवं ड्रोन तकनीकी विषय पर कृषकों, वैज्ञानिकों और छात्रों के साथ मिलकर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

 कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्रद्धेय प्रोफेसर डॉ राजेंद्र बी लाल ,कुलपति शुआट्स, नैनी प्रयागराज, विशेष अतिथि योगेंद्र कुमार विपणन निदेशक इफको नई दिल्ली एवं अध्यक्ष विजय शंकर राय निदेशक इफको नई दिल्ली रहे। कार्यक्रम का संचालन कारडेट फूलपुर के प्रधानाचार्य राजेंद्र यादव ने किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में अभिमन्यु राय,राज्य विपणन प्रबंधक इफको लखनऊ ने इफको नैनो यूरिया के विषय में तकनीकी जानकारी दी। तत्पश्चात  योगेंद्र कुमार विपणन निदेशक इफको ने संवाद के माध्यम से छात्रों और किसानों के प्रश्नों का जवाब दिया और इफको नैनो के क्षेत्र में हो रहे कार्यों की चर्चा की। 

इफको नैनो यूरिया और ड्रोन के साथ भारतीय कृषि में एक नई

उन्होंने कहा कि इफको नैनो यूरिया पर्यावरण हितैषी है और देश के किसान को समृद्ध साली बनाने के लिये वर्तमान समय में एक क्रांतिकारी खोज है। इसी क्रम में मुख्य अतिथि श्रद्धेय प्रोफ़ेसर डॉ राजेंद्र बी लाल कुलपति शुआट्स नैनी प्रयागराज ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों को अपना आशीष दिया और छात्रों को, किसानों को उपस्थित प्रतिभागियों को प्रेरणा देते हुए कहा कि यह नई तकनीक उपयोग करने परखने का समय है जिससे समाज का विकास हो देश का विकास हो।

कार्यक्रम के अंत में सभा के अध्यक्ष विजय शंकर राय निदेशक इफको नई दिल्ली ने अपने अनुभवों को साझा किया और इफको कारडेट के द्वारा किए जा रहे कार्यों को समाज के उपयोगी बताया साथ में शुआट्स नैनी के द्वारा कृषि क्षेत्र में किए गए कार्यों की भी सराहना की । कार्यक्रम के अंत में कृषि विमान ड्रोन का प्रदर्शन भी दिखाया गया जिसकी लोगों ने काफी सराहना की और इसे भविष्य की जरूरत बताया।  मौके पर शुआट्स के डॉ शैलेश मारकर , डॉक्टर आरिफ ए ब्रॉडवे , डॉ विजय बहादुर , डॉक्टर अतुल और कारडेट फूलपुर के डॉ हरीश चंद्र एल एस पांडे ,डीके पांडे , लव टंडन, कमरुज्जमा सहित भारी संख्या में छात्र एवं कृषक मौजूद रहे।


 

   

FROM AROUND THE WEB