बिजली की मूल्य बढौत्तरी व अंधाधुंध कटौती के विरोध में व्यापारियों ने भरी हुंकार

 बिजली की मूल्य बढौत्तरी व अंधाधुंध कटौती के विरोध में व्यापारियों ने भरी हुंकार


बिजली की मूल्य बढौत्तरी व अंधाधुंध कटौती के विरोध में व्यापारियों ने भरी हुंकार


नगर उधोग व्यापार मण्डल ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन


तालबेहट। Sunil tripathhi

प्रदेश में लगातार बढती विद्युत दरों व अंधाधुंध बिजली कटौती के विरोध में जिला उधोग व्यापार मण्डल के आवाहन पर नगर उधोग व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों व व्यापारियों ने नारेबाजी करते हुए ज्ञापन सौंपा।


नगर उधोग व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों व व्यापारियों द्वारा उपजिलाधिकारी मु0 कमर के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजे गए ज्ञापन में बताया कि विधान सभा चुनाव 2017 योगी सरकार बनने व निकाय चुनाव होने के बाद बिजली की दरों में लगभग 12.73 की बढौत्तरी की गई थी। अभी दो साल होने को है कि लोकसभा चुनाव मोदी सरकार बनने के बाद 12 सितंबर 2019 से बिजली की दरों में फिर बढौत्तरी करके 12 सिंतबर से बढी दरे लागू की गई है। भारी भरकम बढौत्तरी से मध्यम वर्ग, किसान बुरी तरह परेशान है।

ग्रामीण उपभोक्ताओं धरेलू स्लेव में बढौत्तरी, किसान के प्रति हेक्ट्रेयर में बढौत्तरी, सर चार्ज में 10 रूपए बढौत्तरी की गई। जिससे ग्रामीण उपभोक्ताओं के ऊपर 25 प्रतिशत की बिजली बढौत्तरी से उपभोक्ता बिजली का उपयोग नही कर पा रहे। इसके अलावा रात रात भर गायब बिजली कटौती और दिन में रोस्टर कटौती से व्यापारियों के धंधे प्रभावित हो रहे है।

अत: बिजली दरों को कम कर बिजली कटौती करने की मांग की गई। ज्ञापन के दौरान जिला उपाध्यक्ष मोदी अशोक जैन, राजीव मिठया, भारत भूषण करौलिया, अरूण बुखारिया, न0अ0 व्यापार मण्डल सुनील त्रिपाठी बाबा, मनीष जैन पारस, प्रदीप रेजा, संजय सिंह परिहार, संदीप अवस्थी, स्वतंत्र जैन, पुष्पेन्द्र सिंह यादव, राजकुमार साहू, रीतेश जैन रज्जो,

युवा व्यापार मण्डल अध्यक्ष श्वेतांक शिवहरे, कुलदीप साहू, अनिल गुप्ता, रविन्द्र गुप्ता, रंजीत साहू, गौरव व्यास, आशीष लखेरा, राजू यादव, शिवम बिलगैंया समेत कई व्यापारी मौजूद रहे।

 

Comments