पाकिस्तान में हाहाकार के बाद अब चीन में मचने वाली है भयंकर तबाही, शंघाई की ओर तेजी से बढ़ रहा 'मुइफा तूफान'

 
पाकिस्तान में हाहाकार के बाद अब चीन में मचने वाली है भयंकर तबाही, शंघाई की ओर तेजी से बढ़ रहा 'मुइफा तूफान'

स्वतंत्र प्रभात 

पाकिस्तान में भयंकर तबाही के बाद अब चीन की बारी है. बुधवार को शक्तिशाली ‘मुइफा तूफान' चीन के द्वीपसमूहों से टकरा गया है. जिसके पश्चात। यह शक्तिशाली तूफान चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई की ओर तेजी से बढ़ गया है. चीन के राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केन्द्रो ने बताया कि ‘मुइफा तूफान' स्थानीय समयानुसार रात करीब साढ़े आठ बजे चीन के पूर्वी तट पर बसे बंदरगाह शहर निंगबो के करीब झोउशान द्वीपसमूह से टकरा चूका है। 
'मुइफा तूफान' से दो करोड़ से भी अधिक आबादी हो सकती है प्रभावित 
चीन के राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, ‘मुइफा तूफान' के उत्तर की ओर बढ़ने के साथ कमजोर होने का भी अनुमान लगया जा सकता है, लेकिन रात में शंघाई पहुंचने तक इसके मजबूत बने रहने की आशंका है. ‘मुइफा' तूफान की वजह से दो करोड़ से भी अधिक आबादी वाले इस शहर में भारी बारिश होने का अनुमान है. हांगकांग वेधशाला ने इसे प्रचंड तूफान की श्रेणी में रखा है और इसकी गति अधिकतम 155 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान लगाया गया है। 

मुख्य हवाई अड्डों की सभी उड़ानें की गयी रद्द
चीनी मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार, अधिकारियों ने शंघाई के दो अहम हवाई अड्डों से सभी उड़ानों को रद्द करने का आदेश दिया है। और निर्माण स्थल एवं अन्य खतरे वाले स्थानों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है. तूफान के जेजियांग प्रांत में तट से दोपहर में टकराने की आशंका थी, लेकिन यह पूर्व दिशा की ओर हल्का मुड़ गया, जिससे यह समुद्र में ही रहा और इसके रास्ते में सीधे शंघाई शहर पड़ गया. निंगबो और जेजियांग हवाई अड्डे पर सभी उड़ानें रद्द कर दी गई हैं, जबकि जेजियांग प्रांत में मछली पकड़ने वाली 11,000 से अधिक नौकाओं को तट पर से फ़ौरन लौटने के लिए कहा गया है.
Covid के नियमो में हुई फेर बदल 
आपको बता दें कि चीन में इमारतों और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर प्रवेश के लिए अधिकतम 72 घंटे पहले कोविड-19 जांच कराना अनिवार्य है, लेकिन इस नियम में ढील दी गई है। दरअसल, इस इलाके के हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशनों और राजमार्ग में प्रवेश के लिए पूर्व की तरह कोविड-19 जांच की अनिवार्यता बनी रहेगी. ‘मुइफा तूफान' शंघाई शहर के पूर्वी हिस्से की तरफ रुख करेगा और फिर चीन के पूर्वोत्तर तट पर स्थित जियांग्सू और शैंगडोंग प्रांतों की ओर बढ़ने का अनुमान लगाया गया है। 

   

FROM AROUND THE WEB