अंतोदय कार्ड धारक के रूप में अपात्र और मृतक उठा रहे हैं राशन

 
 भदोही ब्रेकिंग खबरे 

स्वतंत्र प्रभात
 

जलालपुर अंबेडकरनगर।

सरकार की महत्वकांक्षी योजना घर-घर राशन पहुंचाने के लिए सरकारी गल्ले की दुकान से पात्रता के अनुसार राशन वितरण करने का कार्य हो रहा है। जिसके तहत अपात्र लोग अंतोदय कार्ड धारक बने हुए हैं और सरकार के द्वारा दी जा रही राशन व अन्य सुविधाओं का लाभ ले रहे हैं। यहां तक की मृतक लोग भी राशन उठा रहे हैं । राशन कार्ड की शिकायतों को लेकर जब स्वतंत्र प्रभात समाचार पत्र के संवाददाता ने ग्राम सभा शाहपुर फिरोजपुर, ब्लॉक जलालपुर, जनपद अंबेडकर नगर का पड़ताल किया गया तो देखा गया कि जिन लोगों के पास पक्का मकान, मोटरसाइकिल एवं खतौनी है, वह भी अंतोदय कार्ड धारक बने हुए हैं और यहां तक की कुछ ऐसे मामले सामने आए जहां पर मृतक के नाम से राशन कार्ड बना हुआ है और उस राशन कार्ड पर अंतोदय कार्ड धारक के रूप में राशन उठाया जा रहा है।

पड़ताल के दौरान देखा गया कि राशन कार्ड नंबर 2178 2051 6225 जोकि निर्मला देवी के नाम से बना हुआ है इनके पास पक्का मकान के साथ-साथ खतौनी भी है और इनका पति प्रदेश में नौकरी भी करता है, इसी दौरान राशन कार्ड संख्या 2178 2050 9727 जोकि शिला विश्वकर्मा के नाम से बना हुआ है, इनके पास पक्का मकान के साथ-साथ मोटरसाइकिल और खतौनी होने के बावजूद इनके 3 पुत्र प्रदेश में काम करते हैं। तत्पश्चात राशन कार्ड संख्या 2178 20084 555 जोकि मिथिलेश के नाम से बना हुआ है इनके पास पक्का मकान , मोटरसाइकिल के साथ-साथ खतौनी भी है और इनके परिवार में नलकूप की बोरिंग करने का बिजनेस भी चलता है, जिससे इनके पास पर्याप्त कमाई का साधन होने के बाद भी अंतोदय कार्ड धारक बने हुए हैं ।

इस प्रकार से ग्राम सभा शाहपुर फिरोजपुर में तमाम अंतोदय कार्ड धारक अपात्र और मृतक के रूप में पाए गए। यह अपात्र कार्ड धारक पात्र कार्ड धारकों का हक छीन रहे हैं जिसके कारण पात्र कार्ड धारक अपने हक को नहीं पा रहा है और यह अपात्र कार्ड धारक सरकार द्वारा दी जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ उठा रहे हैं। ग्रामसभा वासियों से बातचीत करने पर ग्रामसभा वासियों ने कहा की कोटेदार और ग्राम पंचायत अधिकारी राशन कार्ड के लिए जिम्मेदार हैं । यह लोग अपात्र कार्ड धारकों का कार्ड कटवा कर पात्र कार्ड धारकों का कार्ड बनवाने के लिए कोई उचित कदम नहीं उठा रहे हैं।

जब ग्राम पंचायत अधिकारी बृजेश कुमार यादव से बातचीत हुई तो उन्होंने कहा कि आप विभाग को एप्लीकेशन दीजिए तब हम पात्रता की जांच कर अपात्रों का राशन कार्ड कटवा कर पात्र लोगों का राशन कार्ड बनवाएंगे। ऐसे में सवाल उठना स्वाभाविक है की बिल्ली के गले में घंटी कौन बांधे कोई भी ग्रामसभा वासी क्यों एप्लीकेशन दे और लोगों का दुश्मन बने क्योंकि जो भी अपात्र कार्ड धारक अंतोदय कार्ड का लाभ उठा रहे हैं वह कहीं ना कहीं या तो दबंग है या तो राजनीतिक पकड़ मजबूत है। ऐसे में हर तरफ चर्चा का माहौल गर्म है की कोटेदार और ग्राम पंचायत अधिकारी अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन कब करेंगे और अपात्रों का राशन कार्ड कटवा कर पात्रों का राशन कार्ड कब बनाएंगे, जिससे पात्र व्यक्ति सरकारी सुविधाओं का लाभ उठा सकें और दोनों टाइम की भोजन की व्यवस्था हो सके।

   

FROM AROUND THE WEB