लखनऊ में बना अवैध निर्माण: अवैध निर्माण को लेकर एलडीए ने बरती सक्रियता, राज्यपाल तक पहुंची शिकायत

 
लखनऊ में बना अवैध निर्माण: अवैध निर्माण को लेकर एलडीए ने बरती सक्रियता, राज्यपाल तक पहुंची शिकायत

स्वतंत्र प्रभात-

डीके सिंह, प्रभारी प्रवर्तन जोन- 4 का शख्त एक्शन, कहा शुक्रवार को इमारत होगी सील
लखनऊ : अफसरों ने इस अवैध निर्माण पर कार्रवाई नहीं की तो सामाजिक कार्यकर्ता हेमंत कुमार मिश्र के राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से इसकी शिकायत की है। उच्च अफसरों के निर्देश पर अवैध निर्माण को सील करने का निर्देश असिस्टेंट इंजीनियर प्रवीण को दिया गया है। ई एवं सुपरवाइजर ने मौका मुआयना भी कर लिया है।



बतादें की पूरा मामला

एलडीए के जोन चार स्थित अलीगंज क्षेत्र में विपरीत मानचित्र के निर्माण को लेकर है जहां प्राधिकरण के अफसर नोटिस पे नोटिस भेजते रहे और अवैध निर्माण पर तीन मंजिला इमारत यूं बन कर खड़ी हो गई जैसे मानों किसी भी एलडीए विभागीय अधिकारी को इसकी भनक ही न हों।
दरअसल वैध निर्माण करने वालों को सबसे पहला नोटिस एलडीए ने पांच फरवरी 2021 को भेजा था, जिसका निष्कर्स शुन्य यानी इलाकाई सुपरवाइजर और जूनियर इंजीनियर ने अफसरों की शह पर ही यह अवैध निर्माण विकास प्रगती पर रहा है।

यह हाल तब है जब हेमंत कुमार मिश्र के राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से इसकी शिकायत की तब भी कार्यवाई ठंडे बस्ते में रहीं। जी हां बताते चलें की, सवा साल के भीतर अवैध इमारत तनकर खड़ी हो गई। अफसरों ने इस अवैध निर्माण पर कार्रवाई नहीं की तो सामाजिक कार्यकर्ता हेमंत कुमार मिश्र के राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से इसकी शिकायत की है।

शिकायती पत्र में उन्होंने बताया है कि किस-किस अफसर ने अवैध रूप से बहुमंजिला इमारत खड़ी कराने में सहयोग दिया है। शिकायत के मुताबिक मनोज अग्रवाल, नीति अग्रवाल,  गर्वित अग्रवाल, नीलम अग्रवाल एवं डायरेक्टर मेसर्स एएन इन्फ्रालैंड प्राइवेट लिमिटेड द्वारा प्लॉट संख्या बी 1/6 सेक्टर-एफ  अलीगंज में 3200 वर्गफीट में बेसमेंट की खुदाई कर अवैध निर्माण कराया है।  

एलडीए की जांच टीम को भी निर्माण अवैध मिला था, जिस पर आरोपियों को पांच फरवरी 2021 को नोटिस देकर अपना पक्ष रखने को कहा गया। आरोपियों ने समय पर अपना पक्ष नहीं रखा तो एलडीए ने 26 जुलाई 2021 को निर्माण सील करने का आदेश जारी किया था, यही नहीं सीलिंग की तारीख भी चार अगस्त 2021 तय कर दी गई थी। इसके बाद थाने को 17 अगस्त को पत्र लिख कर निर्माण रोकने की कागजी कार्रवाई पूरी कर मौन साध लिया गया।  

गुपचुप चलता रहा निर्माण

इलाकाई असिस्टेंट इंजीनियर प्रवीण ने एक जून 2022 को अलीगंज थानाध्यक्ष एवं जोन चार के प्रभारी को पत्र लिख कर अवगत कराया कि मनोज अग्रवाल आदि के भवन पर किए गए अवैध निर्माण को लेकर काम रोकने के नोटिस के बाद भी निर्माण हो रहा है। थानाध्यक्ष से इस अवैध निर्माण को रोकने के लिए कहा गया।

इमारत को सील करने के दिए निर्देश

उच्च अफसरों के निर्देश पर अवैध निर्माण को सील करने का निर्देश असिस्टेंट इंजीनियर प्रवीण को दिया गया है। इस सिलसिले में शाम को जेई एवं सुपरवाइजर ने मौका मुआयना भी कर लिया है। शुक्रवार को इमारत सील हो जाएगी।
- डीके सिंह, प्रभारी प्रवर्तन जोन- 4 एलडीए

   

FROM AROUND THE WEB