लंपी वायरस को लेकर उन्नाव पशु विभाग अलर्ट, गैर जनपदीय मवेशियों को लाने पर लगी रोक

इस बीमारी की वजह से अक्सर पशुओं की जान तक चली जाती है यही वजह से है कि उन्नाव प्रशासन इसे गंभीरता से ले रहा है
 
लंपी वायरस को लेकर उन्नाव पशु विभाग अलर्ट, गैर जनपदीय मवेशियों को लाने पर लगी रोक

स्वतंत्र प्रभात

 उन्नाव  गौवंशों में पाए जा रहे लंपी वायरस संक्रमण खतरे को लेकर पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड़ पर आ गया है। अधिकारियों ने गौशाला की अभी से मॉनिटरिंग शुरू कर दी है। गैर जनपदों से मवेशी लेकर आने वाले मवेशियों के परिवहन का उन्नाव में प्रवेश रोक दिया गया है। इसके साथ ही जनपद के सभी पशु बाजारों को अग्रिम आदेशों तक बंद करा दिया गया है। हालात की मॉनिटरिंग के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। उन्नाव में पिछले कुछ दिनों में पशुओं में लंपी वायरस की बीमारी देखने को मिल रही है। जिसे लेकर प्रशासन पहले से ही सतर्क हो गया है। लंपी वायरस गौवंशों में ही पाया जा रहा है, ऐसे में गौशालाओं में पल रहे गाय

और बैल की देखरेख और भी ज्यादा अहम हो गई है। इसे लेकर खासतौर से जिला प्रशासन के अधिकारी की जिम्मेदारी भी बढ़ गई है, ताकि पशुओं को इससे बचाया जा सके। डीएम भी इसे लेकर एक्शन मोड पर हैं। डीएम की सख्ती के चलते पशु चिकित्सा विभाग के अफसर भी तैयारियों में लग गए हैं। इस बारे में मीडिया ने जब चीफ वेटनरी अफसर उन्नाव अनिल दत्तात्रेय पांडे से बात की तो उन्होंने बताया कि गौशाला की मॉनिटरिंग की जा रही है। गैर जनपदों से आने वाले मवेशियों पर रोक लगा दी गई है। दूसरे राज्यों से मवेशियों को बिक्री के लिए लाने वाली गाड़ियों के जनपद में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए जनपद के बॉर्डर वाहन चैकिंग पोस्ट बनाए गए हैं जो इन पर नजर रख रहे हैं। प्रशासन के अगले आदेश तक सभी पशु बाजारों को बंद करा दिया गया है। आपको बता दें कि यूपी के कई जनपदों में लंपी वायरस का कहर देखने को मिल रहा है।

   

FROM AROUND THE WEB