पशु चिकित्सा केंद्र से सालों से नदारद पशु चिकित्सक, ​​​​​​​

निजी आवास पर चलारहे प्राइवेट क्लीनिक, गैरमौजूदगी में सरकारी दस्तावेजों में होती है उपस्थिति दर्ज 
 
पशु चिकित्सा केंद्र से सालों से नदारद पशु चिकित्सक, 

स्वतंत्र प्रभात 


 हैदरगढ़ बाराबंकी ब्लाक हैदरगढ़ अंतर्गत चौबीसी पशु चिकित्सा केंद्र में चिकित्सक पद पर तैनात डा रजनीश चंद्रा अपने समूर्ण कार्यकाल में अधिकतर नदारद रहे हैं ग्रामीणों के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार जब भी डा रजनीश चंद्रा अस्पताल आते हैं तब वो रजिस्टर में महीनों की रिक्त पड़ी अनुपस्थिति को उपस्थिति में परिवर्तित करते हैं जिसमे अपनी सारी उपस्थिति एक ही दिन में भर कर चले जाते हैं यह क्षेत्रीय लोगों का कहना है। क्षेत्र की भारी संख्या में लोग डाक्टर को न पहचान कर वहां के चौकीदार व फार्मसिस्ट को ही अभी तक डॉक्टर समझा है क्यों की डाक्टर की गैरमौजूदगी की वजह से लोग

डाक्टर से मुखातिब नही हैं व यहां नियुक्त फार्मासिस्ट  ही अपने अनुभव के अनुसार जानवरों का इलाज करते है।सरकार से वेतन लेकर तैनात डा रजनीश चंद्रा कभी न आकर अपने गृह आवास इंदिरा नगर सेक्टर जे अलीगंज मकान नंबर B 13/c पर प्राइवेट स्पार्स पेट  नाम से क्लीनिक संचालित किए हुवे हैं। जो सरकार के मंशा अनुकूल नही है।आज तक बगैर किसी जानकारी के विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से वेतन रूपी सरकारी रुपए का दुरुपयोग किया गया है पशुचिकित्सा विभाग की आंख पर बंधी काली पट्टी का खामियाजा क्षेत्रीय जनमानस के द्वारा पाले गए गोवंश वा जानवरों को भुगतान करना पड़ रहा।

   

FROM AROUND THE WEB