खेत में गिरे 11 हजार हाईटेंशन विद्युत लाइन की चपेट में आकर 5 मवेशियों की हुई मौत

ग्रामीण रात को खेत देखने नही गया नही तो मावेशी हानि के साथ जनहानि निश्चित थी श्री शुक्ला ने विद्युत विभाग कर्मचारियों को फोन से लटक रहे तार कसवाने की भी बात कही 

 
खेत में गिरे 11 हजार हाईटेंशन विद्युत लाइन की चपेट में आकर 5 मवेशियों की हुई मौत 

स्वतंत्र प्रभात

हैदरगढ़ बाराबंकी थाना सुबेहा क्षेत्र के लूसा का पुरवा गांव स्थित एक खेत में गिरे 11 हजार हाईटेंशन विद्युत लाइन की चपेट में आकर एक नीलगाय, 03 सांड व एक गाय समेत कुल पांच मावेशियों की दर्दनाक मौत हो गई सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और विद्युत लाइन बंद करवा कर पशु चिकित्सकों और ग्रामीणों की मदद से मृत पशुओं को खेत से बाहर निकाला और सभी की मौजूदगी में गांव से बाहर सुपुर्दे ए खाक कर दिया। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के लूसा का पुरवा मजरे अहीर गांव निवासी राजेश पुत्र नागेश्वर के खेत से होकर गुजरने वाली 11 हजार हाईटेंशन लाइन का तार बीती रात खंभे से टूट कर गिर गया खेत में पानी होने की वजह से विद्युत करेंट समूचे खेत को अपने आगोश में ले लिया बताया जाता है इसी दौरान मावेशी खेत में प्रवेश हुए तभी वह करेंट की चपेट में आ गये और सभी मावेशियों की मौत हो गई।

लूसा पुरवा निवासी कुलदीप शुक्ला ने बताया कि रविवार की सुबह खेत की तरफ गये हुए थे तभी उनकी नजर खेत में मृत पड़े मावेशी की तरफ पड़ी, उधर विद्युत तार भी टूटा खेत मे पड़ा हुआ था कुलदीप पूरा माजरा समझते ही डायल 112 सहित प्रभारी निरीक्षक सुबेहा संजीत सोनकर को घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और जेसीबी मशीन मंगवाकर सभी मृत मावेशियों को खेत से बाहर निकलवाकर दफन करवा दिया। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि विनोद शुक्ला विद्युत कर्मचारियों पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि यदि विद्युत विभाग ख्ंाभो से लटके तारो की कसाई करवा देता तो शायद यह घटना आज घटित ना होती उन्होने यह भी कहा कि ईश्वर का लाख लाख शुक्र है कोई ग्रामीण रात को खेत देखने नही गया नही तो मावेशी हानि के साथ जनहानि निश्चित थी। श्री शुक्ला ने विद्युत विभाग कर्मचारियों को फोन से लटक रहे तार कसवाने की भी बात कही।

   

FROM AROUND THE WEB