छेड़खानी के विरोध करने पर परिजनों को जान से मारने की मिली धमकी

 
छेड़खानी के विरोध करने पर परिजनों को जान से मारने की मिली धमकी


थाने का सरकारी नंबर लगातार नेटवर्क कवरेज क्षेत्र से बता रहा बाहर


स्वतंत्र प्रभात
भीटी अंबेडकर नगर


 ननिहाल में गई युवती के साथ हुई छेड़खानी विरोध करने पर परिजनों को खत्म करने की धमकी दी गई। पीड़िता की मां ने चार लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। मामला महरुआ थाना क्षेत्र के एक गांव का है। युवती 11 मई को अपने ननिहाल में शादी समारोह में शामिल होने गए थे। 

वहां से शामिल होकर रात करीब 11 बजे घर में सोने जा रही थी उस वक्त गांव के दबंगों ने वहां पहुंचकर उसके साथ छेड़खानी किए अपना मोबाइल नंबर दे रहे थे। युवती ने नंबर लेने से एक दिन इनकार किया तो परिजन तथा उसको खत्म करने की धमकी दिए। वही जब थानाध्यक्ष राजीव श्रीवास्तव से बात करने की कोशिश की गई तो उनका सरकारी नम्बर पहुच से बाहर बताया। 

फिर हाल जब से नवांगत थानाध्यक्ष राजीव श्रीवास्तव की तैनाती महरुआ थाने पर हुई है तब से थाने का सरकारी नंबर लगातार नेटवर्क कवरेज क्षेत्र से बाहर ही बता रहा है। जबकि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सीधा निर्देश है कि सभी सरकारी अधिकारी कर्मचारी अपने सरकारी नंबर को हमेशा चालू रखें फोन ना उठाने की दशा में कॉल बैक किया जाए लेकिन यहां तो सरकारी नंबर नेटवर्क क्षेत्र से बाहर ही बता रहा है।

FROM AROUND THE WEB