करंट के चपेट में आने से मां-बेटी की मौत

 
करंट के चपेट में आने से मां-बेटी की मौत

स्वतंत्र प्रभात-

महराजगंज। फरेंदा क्षेत्र के धानी गांव में बुधवार की दोपहर पंखा चलाने के लिए बोर्ड में स्विच आन करते समय करंट की चपेट में आकर मां-बेटी की मौत हो गई, जिसके बाद परिजनों व गांव में कोहराम मच गया। जानकारी के मुताबिक धानी गांव की 35 वर्षीय निशा चौधरी बुधवार की दोपहर स्नान करने के बाद फर्राटा पंखा चलाने के लिए स्विच आन करने पहुंची। इस दौरान वह करंट की चपेट में आकर तड़पने लगी।

मां को छटपटाता देख उसकी 14 वर्षीया बेटी करिश्मा उसे बचाने के लिए पकड़कर खींचना चाही। इस दौरान पंखा करिश्मा के ऊपर गिर गया जिससे दोनों करंट की चपेट में आ गईं। हादसे के दौरान परिवार में कोई नहीं था। कुछ देर बाद पड़ोस के लोगों का नजर मां-बेटी पर पड़ा जिसके बाद शोर मचाने पर गांव के लोग मौके पर पहुंच गए। बताया गया कि मौके पर ही मां-बेटी की मौत हो चुकी थी बावजूद इसके आत्म विश्वास के लिए दोनों को सीएचसी ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने दोनों मां-बेटी को मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना के बाद गांव में कोहराम मच गया।

   

FROM AROUND THE WEB