दिव्यांग प्रकाश भगत को नहीं मिल रहा स्वामी विवेकानंद निशक्त स्वालंबन प्रोत्साहन भत्ता*

पोटका -पोटका प्रखंड अंतर्गत पंचायत सह राजस्व ग्राम टांगराईन  के वार्ड संख्या -9 के रहने वाले दिव्यांग प्रकाश भगत का विजिबिलिटी 70% है
 
पोटका -पोटका प्रखंड अंतर्गत पंचायत सह राजस्व ग्राम टांगराईन  के वार्ड संख्या -9 के रहने वाले दिव्यांग प्रकाश भगत का विजिबिलिटी 70% है

स्वतंत्र प्रभात-

 पोटका   पूर्वी सिंह भूम झारखण्ड: 

पोटका -पोटका प्रखंड अंतर्गत पंचायत सह राजस्व ग्राम टांगराईन  के वार्ड संख्या -9 के रहने वाले दिव्यांग प्रकाश भगत का विजिबिलिटी 70% है एवं स्वामी विवेकानंद निशक्त स्वावलंबन प्रोत्साहन भत्ता अनुमंडल पदाधिकारी का कार्यालय धालभूमगढ़ जमशेदपुर द्वारा स्वीकृत आदेश ज्ञापन संख्या 154/ 2006- 2007 के आधार पर प्रोत्साहन भत्ता स्वीकृत हुई। उसके बाद लगातार 10 मार्च 2017 तक पेंशन मिला उसके बाद पेंशन आना बंद हो गया । जिसका आधार संख्या 8633 1567 7204, फोटो पहचान पत्र संख्या- जीबीजी- 5897 665  ,बैंक ऑफ इंडिया का खाता संख्या- 5956 10 11000 2785 है। 2017 से आज तक प्रकाश भगत के पिताजी कालीचरण भगत अपने पुत्र को पेंशन दिलाने के लिए सम्बन्धित कार्यालय पर ठोकरें खा रहे हैं। विभाग की उदासीनता दिव्यांग के माता-पिता के लिए बोझ बन रहा है। वे कहते हैं मैंने प्रकाश भगत के पेंशन को फिर से चालू करवाने के लिए विधायक संजीव सरदार को सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में आवेदन के साथ मौखिक रूप से भी पेंशन चालू कराने का अनुरोध किया , कोई बार प्रखंड कार्यालय के प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ मिला आवेदन दिया मगर अब तक मेरे दिव्यांग पुत्र प्रकाश भगत को पेंशन चालू नही हो पाया है। मैं एक गरीब खेतिहर मजदूर हूं, इस ढलती उम्र एवं सुखाड़ की स्थिति में पुत्र को पालना एक चुनौती है। करूं तो क्या करूं मैं एक पीता हूं । थक हार कर मैं पेंशन से आशा छोड़ चुका हूँ। किस किसको मिन्नतें करूँ । अब मैं सिर्फ अपना कर्म जब तक कर पाता हूँ कर के परिवार का भरण पोषण करता रहूंगा। आगे किस्मत में जो होना होगा वो होगा।

   

FROM AROUND THE WEB