सरकार हमें जातियों में न बांटे , जिसकी जितनी अबादी उसकी उतनी भागीदारी सुनिश्चित करें राज्य सरकार- केन्द्रीय प्रवक्ता हंसराज चौरसिया

 
सरकार हमें जातियों में न बांटे , जिसकी जितनी अबादी उसकी उतनी भागीदारी सुनिश्चित करें राज्य सरकार- केन्द्रीय प्रवक्ता हंसराज चौरसिया      

स्वतंत्र प्रभात-

हजारीबाग, झारखंड:- 

ओबीसी विकास परिषद के केन्द्रीय प्रवक्ता हंसराज चौरसिया ने रविवार को ओबीसी विकास परिषद के केंद्रीय कार्यालय में सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा की सरकार हमें जातियों में न बांटे। जिसकी जितनी आबादी उसकी उतनी भागीदारी सुनिश्चित करें सरकार।  आज के दिनों में पिछड़ा वर्ग विभिन्न जातियों में बंटा हुआ है, इसीलिए राज्य सरकार इस पर संज्ञान नहीं ले रही है। अब हमें एकजुट होकर ताकत दिखाने की जरूरत है। जो हमारें साथ आना चाहते है उनका तहे दिल से स्वागत है । जबकि मौकें पर आजसू छात्र संघ के पूर्व जिला उपाध्यक्ष सह छात्र नेता सिकेन्दर मंडल से केन्द्रीय प्रवक्ता ने दूरभाष पर बात किया । और कहा की ओबीसी को 36 प्रतिशत आरक्षण की मांग पर साथ आने की अपील किया । जिस पर छात्र नेता सिकेन्दर मंडल ने हामी भी भरी और कहां की हम आपके साथ है । जबकि आगे उन्होनें कहा की जिन जिलों में पिछड़ों का आरक्षण शून्य है,

वहां उनकी आबादी के अनुरूप सरकार आरक्षण दे। सरकार अनुसूचित जिलों का बहाना बनाना छोड़े। यह सिर्फ पिछड़ा वर्ग को उलझाने का हथकंडा है। वही छात्र नेता सिकेन्दर मंडल को भरोसा दिलाते हुए केंद्रीय प्रवक्ता को कहा  की जल्द ही झारखंड के 24 जिलों में क्रमवार तरीके से धरना दिया जाएगा । और सरकार से  जवाब मांगा जाएगा । यदि सचमुच कांग्रेस ओबीसी को 36 प्रतिशत आरक्षण देने पर गंभीर है, तो वह इसे पूरा कराए या राज्य सरकार से समर्थन वापस ले। सरकार आपकी है, फिर इस विषय पर केवल बयानबाजी क्यों कर रहे हैं? कैबिनेट में यह प्रस्ताव लाकर निर्णय क्यों नहीं करते? केंद्र की तर्ज पर झारखंड में भी आरक्षण लागू करें।

चौरसिया ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने ओबीसी समाज को सबसे ज्यादा छला है, जबकि जेएमएम ने उसे मूर्ख बनाया है। ओबीसी विकास परिषद  समाज के सभी वर्गों के साथ मजबूती से खड़ी है।

   

FROM AROUND THE WEB