ब्लाक सभागार में कृषक गोष्ठी कार्यक्रम आयोजित

Swatantra Prabhat
 
किसान गोष्ठी आयोजित

आनन्दनगर,महराजगंज।

भारत एक कृषि प्रधान देश है किसान की सोच यही रहती है कि खेत में कम से कम लागत में ज्यादा से ज्यादा पैदावार दिया जाए इसी से संबंधित ब्लॉक सभागार में बुधवार को इफ्को के सौजन्य से एक कृषक गोष्ठी का आयोजन किया गया, गोष्ठी के मुख्य अतिथि फरेंदा के खंड विकास अधिकारी रहे।

इफको के अधिकारियों ने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि किसानों की आय दोगुना किया जाए इसके लिए जब किसान नैनो यूरिया का अपने खेतों में पौधों पर छिड़काव करेंगे तो किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी इसके अतिरिक्त आधुनिक नई टेक्नोलॉजी जैसे ड्रोन कमरे के द्वारा छिड़काव बीज डालना आदि का प्रयोग करने से किसानों की आय दोगुनी करने में विशेष मदद मिलेगी। नई टेक्नोलॉजी का ड्रोन कैमरा संभवत महराजगंज जिले में 2024 तक उपलब्ध हो जाएगा।

इफको के क्षेत्रीय अधिकारी ने कहा कि यदि पौधे पीलापन दिखाई दे तो यूरिया के बजाय सल्फर का प्रयोग करना चाहिए साथ ही मिट्टी की जांच भी किसानों को करवाते रहना चाहिए। नैनो यूरिया पर प्रकाश डालते हुए इफको फरेंदा के केंद्र प्रभारी ने कहा कि भारत में यूरिया का दाम सबसे कम है। 500 किलोग्राम का नैनो यूरिया छिड़काव कर दिया जाए तो एक बोरी यूरिया के बराबर हो जाता है।

उन्होंने बताया कि पूरे जनपद में 22 लाख किसान यूरिया का प्रयोग करते हैं। इफको प्रभारी रोहित सिंह तोमर ने कहा कि नैनो यूरिया का प्रयोग यहां के किसान शुरू कर दिए हैं नैनो यूरिया के प्रयोग से पौधों का लाभ पूरा तो होता ही है साथ ही 60 से 70 पर्सेंट तक वेस्टेज यूरिया को बचाता है।

FROM AROUND THE WEB