वाहन चोर गैंग के तीन सक्रिय सदस्य को पुलिस ने किया गिरप्तार

कार्मल रोड तिराहा पर चेकिंग के दौरान एक पल्सर पर सवार 3 लोगो को रोका
 
वाहन चोर गैंग के तीन सक्रिय सदस्य को पुलिस ने किया  गिरप्तार 

स्वतंत्र प्रभात-

गोरखपुर।

कैंट पुलिस ने कार्मल रोड तिराहा पर चेकिंग के दौरान एक पल्सर पर सवार 3 लोगो को रोका और उनसे पूछताछ कर  गाड़ी के कागजात मांगे।लेकिन उन लोगो के पास कोई कागज नहीं था, कड़ाई से पूछताछ में इन लोगों के द्वारा पता चला कि यह वाहन चोर गैंग के सदस्य हैं, और भीड़भाड़ वाले जगहों से गाड़ी को चुराकर सुनसान जगह पर रख देते थे।बाद में सही समय पर ग्राहक मिलने पर वाहनों को बेच दिया करते थे।

फिर उसका पैसा आपस में बाट लेते थे।फिर उसी पैसे से अपना शौक को पूरा करते थे।इनकी निशानदेही पर पुलिस ने चोरी किए हुए 4 मोटरसाइकिल बरामद किया है। जिनमें एक बजाज पल्सर,एक हीरो होंडा स्प्लेंडर, हीरो एचएफ डीलक्स के अलावा  एक एक्टिवा गाड़ी बरामद किया है पूछताछ में इन लोगों ने बताया कि यह भीड़ भाड़ वाले जगहों से वाहनों की चोरी किया करते थे पल्सर गाड़ी को इन लोगों ने बारामनगर करजहा से 1 महीने पहले चोरी किया था

इसके अलावा एक वाहन के चोरी का मुकदमा खोराबार थाने में पहले से दर्ज है बाकी दो वाहनों के बारे में पुलिस पूछताछ कर रही है चोरी के वाहनों को यह लोग एक्सीडेंटल अस्पताल के बगल में बने झोपड़पट्टी के पीछे छिपा कर रख देते थे और ग्राहक के मिलने पर गाड़ियों को वहां से निकाल कर बेच देते थे।गिरफ्तार अभियुक्त सोनू कुमार डोम पुत्र मिंटू डोम जो कैंट थाना क्षेत्र का रहने वाला है यह पहले भी चोरी के मामले में जेल जा चुका है।

बाकी दो आरोपियों के बारे में पुलिस से जानकारी कर रही और उनके अन्य साथियों के बारे में जानकारी हासिल करने में लगी हुई है।फिलहाल कैंट पुलिस को बड़ी सफलता मिली और पुलिस ने इन चोरों की निशानदेही पर चोरी के चार मोटरसाइकिल बरामद किया है।क्षेत्राधिकारी कैंट श्याम देव बिंद ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि कैंट पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान ऐसे 3 शातिर वाहन चोर जिनमे सोनू कुमार डोम,अविनाश कुमार डोम और सुहैल हासमी को गिरफ्तार किया है।

जो भीड़भाड़ वाले जगहों से दोपहिया वाहनों को चोरी करते थे।और पर्स भी लेकर भाग जाते थे इनमें से एक आरोपी पहले भी चोरी की घटना में जेल जा चुका है बाकी आरोपियों के बारे में पूछताछ चल रही है। गिरफ्तार वाहन शातिर किस्म के हैं और यह भीड़ भाड़ वाले लोगों से दोपहिया वाहनों पर भी चुरा कर फरार हो जाते थे बरामद वाहनों के मालिकों को सूचना दे दी गई है और अंजू गाड़ी है उनके बारे में भी पता किया जा रहा है।

FROM AROUND THE WEB