संसाधित खाद्य पदार्थों से होने वाली बीमारियों के बारे में महिलाओं को विस्तार पूर्वक दी गई जानकारी

ग्रामीण महिलाओं को जानकारी दी गई तथा उन्हें दैनिक आहार में शामिल करने में प्रोत्साहित किया इस अवसर पर अवधेश नंदनी एवं पुरातन छात्राएं भी उपस्थित रही

 
 संसाधित खाद्य पदार्थों से होने वाली बीमारियों के बारे में महिलाओं को विस्तार पूर्वक दी गई जानकारी

स्वतंत्र प्रभात

अम्बेडकर नगर।रमाबाई राजकीय महिला महाविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के द्वितीय दिवस महाविद्यालय की संरक्षिका प्रोफेसर शेफाली सिंह के नेतृत्व व मार्गदर्शन मे ग्राम सुल्तानपुर  में संसाधित खाद्य पदार्थों का स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव विषय पर जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया। इस अवसर पर डॉ पूनम संसाधित खाद्य पदार्थों से होने वाली बीमारियों के बारे में महिलाओं को विस्तार पूर्वक बताया और आहार में इन्हें न शामिल करने की सलाह दी।संगीता द्वारा प्रोसेस स्नैक्स के स्थान पर घर में बने स्नैक्स बच्चों को देने की सलाह दी गई ।उन्होंने कहा कि प्रोसेस्ट फूड से बच्चों में आलस्य और मोटापा की वृद्धि होती है।


गृह विज्ञान के असिस्टेंट प्रोफेसर वी प्रिया द्वारा छोटे बच्चों के डिब्बा बंद खाद्य पदार्थों जैसे सेरेलैक के स्थान पर घर में तैयार किए गए वीनिंग फूड देने की सलाह दी, जो बच्चों में स्वास्थ्य भोजन संबंधी आदतों के निर्माण में भी सहायक है।ग्रामीण महिलाओं ने कार्यक्रम में उत्साह पूर्वक भाग लिया। इस अवसर पर महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रकार के पौष्टिक एवं आकर्षक व्यंजनों के बारे में

   

FROM AROUND THE WEB