पड़ोसी देश नेपाल से घाघरा नदी में छोड़ा गया करीब 3 लाख क्यूसेक पानी

 बाढ़ खंड अधिकारी बाराबंकी शशीकांत सिंह के अनुसार लगातार छोड़ा जा रहा है नेपाल द्वारा सरयू नदी में पानी 
 
पड़ोसी देश नेपाल से घाघरा नदी में छोड़ा गया करीब 3 लाख क्यूसेक पानी 

स्वतंत्र प्रभात 

बाराबंकी जनपद बाराबंकी के अंतर्गत स्थित तहसील रामनगर व सिरौलीगौसपुर के गांव के आसपास धाराप्रवाह में बह रही सरयू नदी में नेपाल के बनबसा शारदा बैराज से प्रतिदिन लगातार 2 लाख 70 हजार क्यूसेक पानी नेपाल के शारदा बैराज से सरयू नदी में छोड़ा जा रहा है,जिससे नदी के जो नजदीक गांव है उनमें तेजी से नदी कटान भी कर रही है। कटान को रोकने के लिए बाढ़ खंड अधिकारी शशिकांत सिंह की देखरेख अपर अभियंताओं द्वारा प्रयास जारी है हो रही कटान को रोका भी जा रहा है।नदी का जलस्तर बढ़ने से हजारों ग्रामीण दहशत में आ गए है की कहीं उनके घर के अंदर बाढ़ पानी ना घुस जाए।घाघरा नदी की कटान को रोकने के

लिए बाढ़ विभाग की टीम ने मंगलवार को नदी के किनारे बीस बीस मीटर के दो जिओ ट्यूब डालकर कटान को रोकने का प्रयास किया जा रहा है।तहसील सिरौलीगौसपुर के अलीनगर रानीमऊ तटबंध के निकट के गांव तेलवारी में कई दिनों से सरयू नदी कटान कर रही थी।मजदूरों द्वारा बोरियों में ईंट पत्थर डालकर कटान रोकने का प्रयास किया गया जो असफल साबित हुआ।बाढ़ खंण्ड के अभियंताओं द्वारा घाघरा सरयू नदी की विनाशकारी कटान रोकने के लिये अब अंततः जिओ ट्यूब को नदी के किनारे पर कटान रोकने के लिए लगाया गया है।वहीं इस सम्बंध में बाढ़ खंड अधिकारी शशिकांत सिंह ने बताया नदी की कटान को रोकने के लिए दो जिओ ट्यूब जहां पर कटान हो रही थी वहां पर लगाया जा रहा है जिससे कटान अब रुकेगी, और वहां पर नदी कटान नहीं करेगी ,नेपाल के द्वारा प्रतिदिन तीन लाख के करीब पानी नदी में छोड़ा जा रहा जिससे लगातार पानी सरयू नदी में आ रहा है।

   

FROM AROUND THE WEB