खूब फल फूल रहा है अवैध तरीके से बालू खनन और बिक्री का धंधा

 
खूब फल फूल रहा है अवैध तरीके से बालू खनन और बिक्री का धंधा

राजस्व विभाग व खनिज विभाग खनिज माफियाओं पर मेहरबान

चित्रकूट।


 सरकार और प्रशासन बालू के अवैध खनन और अवैध धंधे को रोकने में विफल साबित हो रही है। इधर लगातार अवैध कारोबारियों का दबदबा बढ़ता जा रहा है। माफियाओं द्वारा आक्रामकता दिखाई जा रही है। अंचल अधिकारी जो अंचल में राजस्व संबंधी मामलों का जिम्मेदार गोरख धंधे पर कार्रवाई करने के लिए कतरा रहे हैं। और यही वजह है कि जिले में लगातार अवैध खनन के साथ अवैध रूप से बालू का भंडारण किया जा रहा है और राजस्व विभाग हाथ में हाथ धरे बैठा हुआ है दूसरी तरफ खनिज विभाग  के द्वारा भी कार्रवाई नहीं की जा रही बताया जा रहा है कि यह गोरखधंधा राजस्व विभाग और खनिज विभाग की छत्रछाया में जिले में खूब फल-फूल रहा है।


चित्रकूट जिला में इन दिनों अवैध खनन जोरों पर जारी है उत्तर प्रदेश के सूबे की सरकार जहां अवैध खनन को लेकर कार्रवाई के सख्त निर्देश दे रही है तो वहीं यह कार्रवाई सिर्फ चित्रकूट जिला के दफ्तरों में खनिज विभाग व राजस्व विभाग के अधिकारियों की खनिज माफियाओं से मिलीभगत होने की वजह से किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हो रही है और सरकार के लाखों रुपए के राजस्व को चूना लग रहा है। पहाड़ी थाना क्षेत्र के कछुआ घाट में भी बताया जा रहा है कि अवैध खनन इन दिनों जोरों पर चल रहा है। खनिज माफिया इतने हावी हैं कि पट्टा कहीं और का तो खनिज माफिया खनन कहीं और कर रहे हैं लेकिन जिले का प्रशासन खनिज माफियाओं को खुली छूट दे रखा है और यही वजह है कि खनिज माफियाओं के द्वारा लगातार नदियों का दोहन बड़ी-बड़ी मशीनें लगाकर किया जा रहा है।

खूब फल फूल रहा है अवैध तरीके से बालू खनन और बिक्री का धंधा 

खनिज माफियाओं के हौसले इतने बुलंद है की एनजीटी के नियमों को भी खुलेआम ठेंगा दिखा रहे हैं। वहीं अवैध रूप से जिले में बालू का भंडारण भी किया जा रहा है वर्तमान में भरतकूप थाना के अंतर्गत सुदिनपुर के समीप महाविद्यालय के सामने हजारों ट्रक बालू का अवैध रूप से भंडारण किया गया है जबकि नियम यह है कि भंडारण करने से पहले खनिज विभाग से भंडारण की अनुमति लेनी पड़ती है लेकिन खनिज माफियाओं के हौसले इतने बुलंद है की खनिज विभाग और राजस्व विभाग को खुलेआम चुनौती दे रहा है और हजारों ट्रक अवैध रूप से बालू का भंडारण किया गया है। 

सबसे बड़ी बात यह है कि यह भंडारण नेशनल हाईवे के किनारे किया गया है जो कोई भी आसानी से देख सकता है इससे स्पष्ट होता है कि राजस्व विभाग और खनिज विभाग की भूमि का अवैध रूप से चल रहे भंडारण पर   संदिग्ध है। और यही वजह है कि खनिज माफिया जिले के सभी नियम व कानून को खुलेआम ठेंगा दिखा रहे हैं और सरकारी राजस्व को भी लाखों रुपए का चूना लगाया जा रहा है यदि खनिज विभाग और राजस्व विभाग कार्रवाई करता होता तो सरकार के राजस्व को लगने वाले चूने को बचाया जा सकता है।

सीएम के आदेश की भी हो रही अवहेलना - उत्तर प्रदेश के सूबे की सरकार लगातार अवैध खनन करने वाले माफियाओं को जेल भेजने के साथ सख्त कार्रवाई के लगातार बैठक का निर्देश दे रही है लेकिन यह कार्रवाई सिर्फ लखनऊ के विधानसभा में ही दम तोड़ दे रही है चित्रकूट जिला में सूबे के निर्देश को किसी अधिकारी को कोई फर्क नहीं पड़ रहा। और यही वजह है कि अधिकारियों की संरक्षण में लगातार अवैध खनन व अवैध भंडारण जिले में जारी है।

संरक्षण में लगातार अवैध खनन व अवैध भंडारण जिले में जारी

गरीबों को घर बनाना मुश्किल अधिकारी नहीं कर रहे कार्रवाई लगातार अवैध भंडारण होने की वजह से बालू के दाम बिल्कुल आसमान को छू रहे हैं और यही वजह है कि गरीब अब अपना आशियाना नहीं बना पा रहा है यह जिले के जिम्मेदार अधिकारी इस ओर ध्यान देते और कार्रवाई होती तो शायद आसानी से लोगों को सस्ते दामों पर बालू मिल जाती लेकिन राजस्व विभाग व खनिज विभाग के द्वारा ऐसे कदम नहीं उठाए जा रहे हैं और यही वजह है कि लगातार बालू के दाम आसमान को छू रहे हैं।

बेअसर साबित हो रहा है कार्रवाई का आदेश खनन विभाग और पुलिस मुख्यालय के कड़े निर्देशों के बाद भी अवैध बालू खनन थमने का नाम नहीं ले रहा है सूत्रों का कहना है कि खनन विभाग द्वारा पंजीकृत बालू घाट से अधिक अवैध बालू घाट चल रहे हैं लोग लगातार परेशान हो रहे हैं उनकी शिकायत पर खनन विभाग पुलिस मुख्यालय और डीएम ने सभी थानाध्यक्षों अंचलाधिकारीयों को जांच कर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं इसके बावजूद इसका कोई असर अवैध बालू कारोबार पर नहीं पड़ रहा है लोगों के बीच चर्चा यही होती है कि कथित तौर पर खनिज विभाग व राजस्व विभाग की संरक्षण प्राप्त है। 

वही अब देखना यह है कि जिलाधिकारी जिले में हो रहे अवैध बालू भंडारण व अवैध खनन को लेकर किस स्तर पर कार्रवाई करने के अधिकारियों को निर्देश देते हैं या फिर जिले में इसी तरह अवैध खनन व अवैध बालू का भंडारण जारी रहेगा।

FROM AROUND THE WEB