होरा भूजते हुए लगी आग से सौ बीघे फसल जलकर हुई खाक

होरा भूजते हुए लगी आग से सौ बीघे फसल जलकर हुई खाक

रिपोर्ट-प्रवीण कुमार तिवारी

 

रामसनेहीघाट-बाराबंकी।


स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के टिकैतनगर थाना अंतर्गत टांडा पानापुर गांव में होरा भूजते समय लगी आग से करीब 100 बीघे गेहूं की फसल जलकर खाक हो गई, इस अग्निकांड से किसानों में कोहराम मच गया है।


जानकारी के अनुसार टांडा पानापुर गांव में गांव के कुछ लोग चने का होरा भूज रहे थे, उसी दौरान निकली एक आग की चिंगारी गेहूं के खेत में जा गिरी, जिससे पके हुए गेहूं के खेत में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। ग्रामीणों ने आग बुझाने का लाख प्रयास किया

लेकिन आग के तांडव ने देखते ही देखते करीब डेढ़ दर्जन परिवारों को तबाह कर दिया। इस अग्निकांड में करीब 100 बीघे गेहूं जलने का अनुमान व्यक्त किया गया है। रामसनेहीघाट क्षेत्र से पहुंची दमकल की गाड़ी से आग बुझाने का प्रयास किया गया, इस बीच ग्रामीण भी आग बुझाने में लगे रहे लेकिन दोपहर का समय होने के नाते सारी फसल जलकर खाक हो गई।


इस अग्निकांड में जिन किसानों के खेत में खड़ी गेहूं की फसल जली है उनमें राम कैलाश, शिव कैलाश, गंगा प्रसाद, कृष्ण शंकर, यशवंत सिंह, देवी प्रसाद सिंह, रामकुमा, संतराम, राम आशीष, खरचू, चिंता मती, जगत नारायण, विशाल सिंह, लालू देवी, जितेंद्र सिंह, देवेश्वरी, विंध्याचल सिंह,लल्लन, रंजीत, सहज राम, काशी सिंह एवं जगत सिंह शामिल है।

सिरौलीगौसपुर तहसील के राजस्व कर्मियों ने मौके का निरीक्षण किया तथा इस अग्निकांड में हुए नुकसान का ब्यौरा तैयार किया जा रहा है, टिकैतनगर थाना प्रभारी भी अग्नि कांड की सूचना पाते ही अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए तथा आग बुझाने में सहयोग किया। जिससे आग पर काबू पाया जा सका।

Comments