जिलाधिकारी की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक संपन्न

सभी विभागाध्यक्ष अपने कार्यालयों की रंगाई पुताई कराते हुए रखें साफ सुथरा, लोक कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही नहीं की जाएगी बर्दाश्त-जिलाधिकारी
 
J
स्वतंत्र प्रभात
बलरामपुर जिलाधिकारी डॉ महेंद्र कुमार की अध्यक्षता में 37 बिंदुओं पर जनपद में विकास कार्यों की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।बैठक में जिलाधिकारी द्वारा नहरो द्वारा टेल तक पानी की उपलब्धता, विद्युत उपलब्धता, सड़कों का चौड़ीकरण, गड्ढा मुक्ति, किसान सम्मान निधि, फसल बीमा योजना, निराश्रित गोवंश आश्रय स्थल, पशु टीकाकरण, सहभागिता योजना, ईयर टैगिंग, चिकित्सकों की उपलब्धता, गोल्डन कार्ड,जन आरोग्य योजना,परिवार नियोजन, दवाइयों की उपलब्धता, आशा पेमेंट, एंबुलेंस की पहुंच, ऑपरेशन कायाकल्प, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी/ग्रामीण, मनरेगा, एनआरएलएम, मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, ग्रामीण पेयजल मिशन, खाद्य सुरक्षा योजना, मत्स्य पालन, सामूहिक विवाह, सामाजिक पेंशन, कन्या सुमंगला योजना, बाल विकास एवं पुष्टाहार, स्वरोजगार योजना, कौशल विकास मिशन आदि योजनाओं की समीक्षा की गई।
जिलाधिकारी ने कहा कि कम बारिश के दृष्टिगत फसलों की सिंचाई के लिए नहर की भूमिका अतिमहत्वपूर्ण है , उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को नहरों के टेल तक पानी पहुंचाना सुनिश्चित किए जाने,अधिशासी अभियंता विद्युत को सभी ट्यूबेल पर विद्युत की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया।अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी को गड्ढा मुक्ति अभियान चलाकर बरसात में क्षतिग्रस्त हुए सड़कों की मरम्मत किए जाने, पीडब्ल्यूडी की सड़कों पर किनारों पर अतिक्रमण करने वालों को नोटिस देते हुए हटाए जाने की कार्रवाई का निर्देश दिया। उपनिदेशक कृषि को ग्राम पंचायतों में कैंप लगाकर किसान सम्मान निधि का सत्यापन कार्य में तेजी लाए जाने का निर्देश दिया। गोल्डन कार्ड की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा कम प्रगति पर नाराजगी जताई गई, उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को गोल्डन कार्ड बनाए जाने के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत सहायकों का सहयोग लिए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने इंस्टीट्यूशनल डिलीवरी रिपोर्टिंग की क्रॉस चेकिंग कराए जाने, सभी जिला अस्पताल,सीएचसी,पीएचसी,सब सेंटर पर बोर्ड लगाकर दवाइयों की उपलब्धता का प्रतिदिन अपडेट किए जाने का निर्देश दिया।जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं डीपीआरओ को प्रत्येक न्याय पंचायत में मॉडल स्कूल बनाये जाने, स्कूलों में वॉल पेंटिंग कराए जाने, हाईवे एवं मुख्य मार्ग पर पड़ने वाले ग्राम पंचायतों पर दिशा सूचक पट्ट लगाए जाने का निर्देश दिया। जिला पूर्ति अधिकारी को राशन कार्ड के लिए आवेदन पत्र का निर्धारित समय अवधि के भीतर सत्यापन कर जारी किए जाने, वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांग पेंशन , निराश्रित महिला पेंशन में आधार वेरिफिकेशन में तेजी लाए जाने का संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया।जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्यालयों की रंगाई पुताई करवाते हुए कार्यालय को साफ सुथरा रखें। कार्यालयों में शौचालय साफ सुथरा हो, फाइलें खुली में ना रखी हो, आगंतुकों के लिए बैठने की समुचित व्यवस्था आदि सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी जन कल्याणकारी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन किया जाना सुनिश्चित करें एवं पात्रो तक योजना का लाभ पहुंचाएं। योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बर्दाश्त कि नहीं की जाएगी।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी संजीव कुमार मौर्य, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ सुशील कुमार, जिला विकास अधिकारी गिरीश चंद पाठक, उपायुक्त मनरेगा, बीएसए कल्पना देवी, उपनिदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत,पीडब्ल्यूडी, उपायुक्त उद्योग व अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी गण उपस्थित रहे।
   

FROM AROUND THE WEB